Thursday, June 17, 2021
Homeक्रिकेट3 कारण जिसके चलते भारतीय टीम न्यूजीलैंड को वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के...

3 कारण जिसके चलते भारतीय टीम न्यूजीलैंड को वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में आसानी से हरा सकती है

लगातार दूसरी जीत दर्ज कर भारतीय टीम ने वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में जगह पक्की कर ली है, जहां भारतीय टीम का मुकाबला न्यूजीलैंड की टीम से होगा। फाइनल मैच 18 जून को साउथेंप्टन में होगा। इस टेस्ट चैम्पियनशिप का पहला संस्करण है, जिसमें दोनों टीमें पुरे जोर-शोर से बेहतर प्रदर्शन करते हुए खिताब को अपने नाम करने की कोशिश करेंगी। ऐसे में भारतीय टीम में तीन कारणों को देखकर यह अनुमान लगाया जा रहा है कि भारतीय टीम इस चैंपियनशिप को सरलता से जीत कर अपने देश के नाम करेंगी।

तीनों कारण इस प्रकार है :-

अनुभवी भारतीय बल्लेबाजों का शानदार प्रदर्शन

अभी हाल ही में भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया में शानदार जीत दर्ज की और साथ ही इंग्लैंड के साथ टेस्ट सीरीज में में भी इंडियन टीम ने 3-1 सीरीज जीतकर सीरीज अपने नाम किया। दोनों ही सीरीज में भारतीय बल्लेबाजों ने अपनी बल्लेबाजी का बेहतरीन प्रदर्शन किया। जैसा माहौल वैसा मैच खेला, जब डिफेंस करना था तब भारतीय बल्लेबाजों ने डिफेंस किया और जब विस्फोटक बल्लेबाजी करनी थी तब उन्होनें विस्फोटक बल्लेबाजी करके बेहद शानदार पारी खेली। सितारों से सजी भारतीय टीम को हराना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है।

अनुभवी स्पीन गेंदबाजी के मुकाबले में भारतीय टीम है काफी आगे

जैसा कि हम सब लोग जानते हैं भारतीय टीम की रीढ़ की हड्डी स्पिनर है। हाल ही में समाप्त हुए इंग्लैंड के खिलाफ चार मैचों की सीरीज में भारतीय स्पिनर्स ने 59 विकेट लिया, जिसमें अकेले रविचंद्रन अश्विन 32 विकेट लिए, जबकी बाएं हाथ के गेंदबाज अक्षर पटेल ने तीन मैचों में 27 विकेट लिया। इसके अलावा रविन्द्र जडेजा जो चोट के वजह टीम से बाहर है, वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में वे टीम से जुड़ जाएंगे। उनके टीम मे शामिल होने के बाद स्पिन गेंदबाजी का आक्रमण और भी मजबूत हो जाएगा। भारतीय टीम के पास रविन्द्र जडेजा जैसे स्पिन ऑलराउंडर खिलाड़ी हैं, जो गेंदबाजी के साथ-साथ बल्लेबाजी से भी मैच को पलट सकते हैं।

वहीं न्यूजीलैंड के टेस्ट टीम के पास ऐसा एक भी स्पिनर नहीं है जो अपने टीम के लिये मैच विनिंग प्रदर्शन कर सकें।

एक के बाद एक मिल रही जीत के साथ भारतीय टीम का मनोबल बहुत ऊंचा है।

इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया को हराने के बाद भारतीय खिलाड़ियों का मनोबल बहुत ऊंचा हो गया है। सितारों से सजी भारतीय टीम में विस्फोटक और डिफेंसिव बल्लेबाज मौजुद हैं। अनुभवी गेंदबाज और नए गेंदबाजों का मिश्रण बहुत ही शानदार रहा है। पिछली सीरीज में चोट के कारण बाहर हुए भारतीय तेज गेंदबाजों के जगह पर नए गेंदबाजों को मौका मिला और उन्होंने बहुत ही उत्कृष्ट प्रदर्शन किया। इसमें सबसे पहला नाम मोहम्मद सिराज और शार्दुल ठाकुर का आता है। इसके साथ ही भारतीय टीम को एक और अच्छा ऑलराउंडर मिल गया है जिसका नाम वाशिंगटन सुंदर है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments