Thursday, June 17, 2021
Homeक्रिकेट3 खिलाड़ी T20 World Cup 2021 की भारतीय टीम में ले सकते...

3 खिलाड़ी T20 World Cup 2021 की भारतीय टीम में ले सकते हैं युजवेंद्र चहल की जगह

आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी 2017 के बाद से युजवेंद्र चहल (Yuzvendra Chahal) लिमिटेड ओवर क्रिकेट टीम इंडिया के प्रमुख स्पिनर बनकर उभरे, लेकिन पिछले कुछ समय में उनका प्रदर्शन काफी निराशाजनक रहा है।

अब तक खेगे गए 102 मैचों में चहल ने 150 विकेट चटकाए हैं। इंग्लैंड के खिलाफ मार्च में हुई टी-20 सीरीज में वह तीन मैच में सिर्फ 3 विकेट हासिल किए थे, जिसमें दो मैच में उन्होंने 40 से ज्यादा रन लुटाए थे।

आईपीएल 2021 में भी वह अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए औऱ सात मैच में सिर्फ 4 विकेट चटका सके। इस साल अक्टूबर में टी-20 वर्ल्ड कप खेला जाएगा, ऐसे में चहल का फॉर्म सिलेक्टर्स के लिए चिंता की बात हो सकती है। आज बात करते हैं उन तीन खिलाड़ियों की, जो टी-20 वर्ल्ड कप में चहल की जगह ले सकते हैं।

राहुल चाहर (Rahul Chahar)

21 साल के राहुल चाहर पिछले दो सीजन से सबसे सफल टीम मुंबई इंडियंस के प्रमुख स्पिनर रहे हैं। पिछले सीजन 15 विकेट खाते में डालने के बाद आईपीएल 2021 में भी राहुल का शानदार प्रदर्शन जारी रहा और और उन्होंने 7 मैच में 11 विकेट चटकाए।राहुल ने इस सीजन कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ हुए मुकाबले में 27 रन देकर 4 विकेट चटकाए औऱ हाथ से निकल चुके मुकाबले में मुंबई इंडियंस की वापसी करा कर मैच जिताया।

राहुल ने साल 2019 में वेस्टइंडीज के खिलाफ भारत के लिए डेब्यू किया था। इसके बाद उन्हें मार्च में इंग्लैंड के खिलाफ हुई टी-20 सीरीज में मौका मिला था। अपने टी-20 करियर की 63 पारियों में राहुल ने 7.39 की इकॉनमी रेट से 78 विकेट हासिल किए हैं, जिसमें उनका बेस्ट प्रदर्शन सिर्फ 14 रन देकर 5 विकेट रहा है।

राहुल तेवतिया (Rahul Tewatia)

राहुल तेवतिया गेंद और बैट दोनों से ही अपना योगदान दे सकते हैं। अपने करियर में खेले गए 75 मैचों की 57 पारियों में 148.23 की स्ट्राइक रेट से 1051 रन बनाए हैं, गेंदबाजी में 64 पारियों में 44 विकेट चटकाए हैं।

राहुल 2013 से घरेलू क्रिकेट और 2014 से आईपीएल खेल रहे हैं लेकिन 13वें सीजन में शारजाह क्रिकेट स्टेडियम में शेल्डन कॉटरेल के एक ओवर में 5 छक्के जड़ने के बाद उन्हें प्रसिद्धि मिली। राहुल को इंग्लैंड के खिलाफ पांच टी-20 मैचों की सीरीज के लिए टीम इंडिया में जगह मिली थी, लेकिन फिटनेस टेस्ट में फेल होने के चलते उन्हें प्लेइंग इलेवन में खेलने का मौका नहीं मिला।

रवि बिश्नोई (Ravi Bishnoi)

2020 में साउथ अफ्रीका में खेले गए अंडर-19 वर्ल्ड कप में धमाल मचाने के बाद रवि बिश्नोई को आईपीएल नीलामी में पंजाब किंग्स ने खरीदा था। बिश्नोई ने भारत के लिए इस टूर्नामेंट में 6 मैच में सिर्फ 3.48 के इकॉनमी रेट से 17 विकेट हासिल किए थे। जिसमें तीन मैचों में इस लेग स्पिनर पारी में चार विकेट लेने का कारनामा किया था।

यूएई में खेले गए पिछले सीजन में बिश्नोई को सभी मैच खेलने का मौका मिला। इस सीजन शुरूआत के मैच में उन्हें डगआउट में बैठन पड़ा। 20 साल के बिश्नोई को चार मैच खेलने के मौका मिला जिसमें उन्होंने 6.18 के इकॉनमी रेट से चार विकेट चटकाए। इसके अलावा इस युवा खिलाड़ी से बेहतरीन फील्डिंग भी देखने को मिली।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments