सौरव गांगुली के 4 बड़े फैसले जिसने बनाया उन्हें दुनिया का महान कप्तान

0

सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) का नाम भारत के सबसे सफल कप्तानों की सूची में आता है। सौरव गांगुली की कप्तानी में भारतीय टीम ने बहुत बुलंदियां हासिल कीं। सौरव गांगुली की कप्तानी में भारतीय टीम ने विदेशों में भी अच्छा प्रदर्शन किया। आज हम आपको सौरव गांगुली के चार ऐसे फैसलों के बारे में बताने वाले हैं। जिन्होंने उन्हें दुनिया का महान कप्तान बनाया।

1- बता दें कि 2001 में भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया के साथ कोलकाता में टेस्ट मैच खेला था। इस मैच में भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया से वह पीछे थी और फॉलोऑन का खतरा था। भारतीय टीम फॉलोऑन के बाद बल्लेबाजी करने उतरी तो सौरव गांगुली ने नंबर तीन पर बल्लेबाजी के लिए राहुल द्रविड़ की जगह वीवीएस लक्ष्मण को उतार दिया। इस मैच में वीवीएस लक्ष्मण ने नंबर तीन पर बल्लेबाजी करते हुए 281 रन की पारी खेली और भारतीय टीम मैच जीत गई। उनका यह फैसला सभी के लिए चौंकाने वाला था।

2- जब सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) भारतीय टीम के कप्तान थे तो उस समय ऑस्ट्रेलिया की टीम विश्व की सबसे ताकतवर टीम मानी जाती थी। ऑस्ट्रेलियाई टीम भारत दौरे पर आई। तो कप्तान सौरव गांगुली उस समय ऑस्ट्रेलियाई टीम के कप्तान स्टीव वॉ का बहुत सम्मान करते थे।

Sourav Ganguly

3- बता दें कि जब भारतीय टीम 2004 में ऑस्ट्रेलिया दौरे पर जा रही थी तो टीम में अनिल कुंबले को नहीं लिया गया था। उनकी जगह मुरली कार्तिक को शामिल किया गया था। लेकिन सौरव गांगुली ने चयनकर्ताओं से टीम में अनिल कुंबले को शामिल करने की रिक्वेस्ट की और अनिल कुंबले टीम का हिस्सा बने। उन्होंने इस सीरीज में सबसे ज्यादा विकेट हासिल किए।

4- सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ने वीरेंद्र सहवाग से ओपनिंग करवाई और इसके बाद सहवाग ने बतौर ओपनर बल्लेबाजी का ढंग ही बदल दिया। सौरव गांगुली का यह फैसला बहुत ही बड़ा था।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप हमें सोशल मीडिया फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर को फॉलो करें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.