Thursday, June 17, 2021
HomeUncategorizedक्रिकेट इतिहास के 5 मुकाबले जब सुपर ओवर में नहीं बना कोई...

क्रिकेट इतिहास के 5 मुकाबले जब सुपर ओवर में नहीं बना कोई रन

क्रिकेट का सबसे रोमांचक कॉन्टेस्ट सुपर ओवर होता है। टी-20 मैचों के टाई को ब्रेक करने के लिए आधिकारिक रूप से सुपर ओवर खेला जाता है। आज इस खास लेख में हम आपको सुपर ओवर की पांच ऐसे मौकों के बारे में बता रहे हैं, जब एक टीम खाता भी नहीं खोल पाई।

ससेक्स बनाम डायमंड ईगल्स (2009)

क्रिकेट के इतिहास में पहली चैंपियंस टी-20 लीग में सुपर ओवर में एक भी रन नहीं बना था। ससेक्स ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 119 रन बनाए, जबकि ईगल्स में 4 विकेट खोकर इतने ही रन बनाए। रिली रोसो ने 65 गेंदों में सबसे ज्यादा 62 रन बनाए। सुपर ओवर में ईगल्स ने 9 रन बनाए, ससेक्स के गेंदबाज सीजे डिविलियर्स को ये रन डिफेंड करना था। उन्होंने पहली दो गेंदों में विकेट झटककर मैच ससेक्स की झोली में डाल दिया।

हैंपशायर बनाम बारबाडोस (2011)

कैरेबियाई टी-20 लीग में हैंपशायर ने 3 विकेट खोकर 136 रन बनाए। सीन एरविन ने नाबाद 32 रन की पारी खेली थी। जवाब में बारबाडोस की टीम भी 136 रन ही बना सकी। सिमोन जोंस ने 10 रन देकर 4 विकेट झटके। सुपर ओवर में भी जोंस ने बारबाडोस की टीम को तीन गेंदों में जीरो रन पर समेट दिया। विंस ने विजयी रन मारकर हैंपशायर को जीत दिला दी।

त्रिनिदाद एंड टोबागो रेड स्टील बनाम गुयाना अमेजन वॉरियर्स (2014)

सीपीएल 2014 में त्रिनिदाद एंड टोबागो रेड स्टील ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 118 रन बनाए। एविन लुईस ने 39 गेंदों में 51 रन की पारी खेली, वहीं पूरन ने 17 गेंदों में 37 रन की पारी खेली। वहीं वॉरियर्स ने इस स्कोर की बराबरी कर ली। दरअसल पूरन ने अंतिम गेंद पर कैच छोड़ दिया और जीत के लिए 3 रन में से वॉरियर्स ने 2 रन बना लिए और मैच टाई हो गया। सुपर ओवर में वॉरियर्स ने 11 रन बनाए, जिसके जवाब में त्रिनिदाद की टीम एक भी रन नहीं बना पाई। स्पिनर सुनील नरेन ने शानदार गेंदबाजी की और पूरन को 4 गेंद डॉट फेंकने के बाद पांचवीं पर बोल्ड कर दिया। अंतिम गेंद सुनील ने फिर डॉट फेंक दी।

वॉरियर्स बनाम नाइट्स (2015)

टी-20 क्रिकेट में दूसरी बार जीरो रन बनने वाले सुपर ओवर में नाइट्स की टीम शामिल रही। दुर्भाग्यवश दोनों मैच में टीम को हार ही झेलनी पड़ी। रैम स्लैम टी-20 चैलेंज 2015 में बारिश प्रभावित मुकाबला 6 ओवर का खेला गया। कॉलिन इंग्राम के 21 गेंदों में 52 रन की बदौलत वॉरियर्स ने 81 रन बनाए और नाइट्स ने भी रेयान मैक्लारेन के 14 गेंदों में 34 रन के बदौलत मैच टाई करवा लिया। सुपर ओवर में एंड्रू बर्क ने पहली दो गेंद पर विकेट लेकर नाइट्स को समेट दिया। जवाब में इंग्राम ने पहली ही गेंद पर चौका लगाकर वॉरियर्स को जीत दिला दी।

अमो शार्क्स बनाम स्पीन घर टाइगर्स (2017)

आफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड की श्पागीजा टी-20 लीग में शार्क्स की टीम ने ताहिर खान के नाबाद 38 रन के बदौलत 159 रन बनाए। जवाब में टाइगर्स ने एल्टन चिगुंबरा के आखिरी ओवर में 16 रन के बदौलत मैच को टाई करवा लिया। सुपर ओवर में चिगुंबरा व शफीकूल्लाह के छक्कों की मदद से 17 रन बनाए। टाइगर्स के गेंदबाज बिलाल खान ने शार्क्स की पारी को जीरो रन पर समेट दिया। बिलाल ने पहली दो गेंदों पर दो विकेट लेकर ये कारनामा किया था।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments