Thursday, June 17, 2021
Homeक्रिकेटबेहद कम उम्र में संन्यास लेने वाले साउथ अफ्रीका के 5 खिलाड़ी

बेहद कम उम्र में संन्यास लेने वाले साउथ अफ्रीका के 5 खिलाड़ी

दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेट टीम जितने मजबूत हुआ करती थी, अब उतनी ही नीचे की ओर बढ़ती दिख रही है इस दौरान वे न केवल हारे हैं बल्कि टॉप देशों के खिलाफ बहुत सारे मैचों में प्रतिस्पर्धा करने में भी विफल रहे हैं. इसके आलावा उनके ज्यादातर अनुभवी खिलाड़ी पिछले 18-24 महीनों में संन्यास ले चुके हैं और इसलिए युवाओं को टीम में अपना स्थान पर कायम करने में समय लग रहा है.

आज इस लेख में हम साउथ अफ्रीका के 5 ऐसे खिलाड़ियों के बारे में जानेगे, जिन्होंने बेहद कम उम्र में अन्तराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लिया हैं.

1) आंद्रे नेल

आंद्रे नेल दक्षिण अफ्रीका के उन क्रिकेटरों में से एक हैं जिन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से जल्दी संन्यास ले लिया. वह एक तेज गेंदबाज थे जिन्होंने तीनों प्रारूपों में प्रोटियाज का प्रतिनिधित्व किया. उन्होंने 2001 में क्रमशः जिम्बाब्वे और वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट क्रिकेट और एकदिवसीय क्रिकेट में पदार्पण किया.

उन्होंने अपने देश के लिए करीब 80 वनडे और 40 टेस्ट खेले. वह उन गेंदबाजों में से एक थे जिन्होंने अपनी वास्तविक गति से बल्लेबाजों को परेशान किया. आंद्रे नेल ने 2009 में 32 साल की उम्र में संन्यास की घोषणा की. भले ही वह एक तेज गेंदबाज थे, लेकिन वह कुछ और वर्षों तक खेल सकते थे लेकिन उन्होंने जल्दी ही संन्यास की घोषणा कर दी.

2) जोंटी रोड्स

क्रिकेट के इतिहास में सर्वश्रेष्ठ फील्डर जोंटी रोड्स दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेटरों में से एक हैं जिन्होंने खेल से जल्दी संन्यास ले लिया. रोड्स फिलहाल पंजाब किंग्स के फील्डिंग कोच हैं. जोंटी रोड्स जो एक बेहद अच्छे बल्लेबाज थे, उन्होंने अपने देश के लिए 200 से अधिक एकदिवसीय मैच खेले.

इसके आलावा उन्होंने 3 शतक और 17 अर्धशतक के साथ 50 से अधिक टेस्ट भी खेले. रोड्स ने 2001 में 32 साल की उम्र में टेस्ट क्रिकेट से संन्यास की घोषणा की, ताकि वनडे प्रारूप में अपने करियर को लम्बा खींच सकें. उन्होंने 2003 का विश्व कप खेला और फील्डिंग के दौरान एक मैच में घायल हो गए जो दक्षिण अफ्रीका के लिए उनका आखिरी मैच था.

3) मार्क बाउचर

मार्क बाउचर जो अपने अंतरराष्ट्रीय करियर में 999 आउट करने के लिए प्रसिद्ध हैं, उन्हें आंख की चोट के कारण अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से जल्दी संन्यास लेना पड़ा. 1997 में पदार्पण करने वाले दक्षिण अफ्रीका के विकेटकीपर बल्लेबाज ने दक्षिण अफ्रीका के लिए सभी प्रारूपों में 450 से अधिक मैच खेले.

2012 में बाउचर को विकेटकीपिंग करते समय एक स्पिनर की गेंद लग गई थी. गेंद उनकी आंख में लगी क्योंकि उनके पास हेलमेट नहीं था. उन्हें सर्जरी करवानी पड़ी लेकिन अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की घोषणा भी करनी पड़ी, वह निश्चित रूप से कुछ और साल खेल सकते थे लेकिन चोट ने उनके करियर को छोटा कर दिया.

4) ग्रीम स्मिथ

दक्षिण अफ्रीका के सबसे युवा कप्तान भी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से जल्दी संन्यास लेने वाले क्रिकेटरों में से एक हैं. 22 साल की उम्र में कप्तान के रूप में शुरुआत करने वाले ग्रीम स्मिथ 100 से अधिक टेस्ट में टीम की कप्तानी करने वाले एकमात्र खिलाड़ी हैं.

उन्होंने 33 साल की उम्र में रिटायर होने के पहले अपने देश के लिए 117 टेस्ट और 197 एकदिवसीय मैच खेले. लगातार एक-दो श्रृंखलाओं में रन न बनाने के बाद स्मिथ ने 2014 में कम उम्र में अपनी रिटायरमेंट की घोषणा की.

5) एबी डिविलियर्स

साउथ अफ्रीका के पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज एबी डिविलियर्स ने आईपीएल 2021 में जिस तरह बल्लेबाजी की हैं, उसे देखकर किसी को भी कोई संदेह नहीं होगा कि ये खिलाड़ी अब कुछ वर्षों तक अपने देश के लिए खेल सकते थे.

डिविलियर्स अभी 37 वर्ष के हैं हालाँकि उन्होंने 2018 में अपने सभी फैन्स को हैरान करते हुए संन्यास का ऐलान कर दिया था. अच्छी बात ये हैं कि ये खिलाड़ी जल्द ही फिर अपने देश के लिए खेलता हुआ दिखाई दे सकता हैं.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments