पंत से कॉम्पिटिशन पर झलका संजू सैमसन का दर्द, कहा मेरी जगह….

0

संजू सैमसन (Sanju Samson) पिछले काफी समय से टीम इंडिया से बाहर चल रहे हैं हालांकि उन्हें काफी बार टीम में चुना गया लेकिन मौके उन्हें काफी कम मिले उनकी जगह रिषभ पंत को ज्यादा तरजीह दे गई।

टीम इंडिया के धुरंधर विकेटकीपर बल्लेबाज महेन्द्र सिंह धोनी का करियर अपने अंतिम पर है, उनके विकल्प के रुप में ऋषभ पंत को देखा जा रहा था, लेकिन पिछले कुछ समय में रन नहीं बनाने की वजह से सीमित ओवरों में विराट कोहली ने केएल राहुल को दस्ताना थमा दिया, हालांकि संजू सैमसन (Sanju Samson) के रुप में भी टीम इंडिया के पास एक अच्छा विकल्प है, लेकिन ज्यादातर मौकों पर पंत को तवज्जो मिली, टाइम्स ऑफ इंडिया से संजू ने इस पर खुलकर बात की।

संजू सैमसन

रहाणे की कप्तानी में किया डेब्यू

साल 2015 में जिम्बॉब्बे के खिलाफ टी-20 मैच से संजू सैमसन ने इंटरनेशनल डेब्यू किया, उन्हें मैच से पहले मुरली विजय ने कैप दी थी, रहाणे टीम की अगुवाई कर रहे थे, संजू को सातवें नंबर पर बल्लेबाजी का मौका मिला, उन्होने 19+ रन बनाये थे। इसके बाद बांग्लादेश के खिलाफ तीन मैचों की टी-20 सीरीज के लिये उन्हें टीम में चुना गया, हालांकि उन्हें एक भी मैच में खेलने का मौका नहीं मिला, चयनकर्ताओं को पंत को तवज्जो दी, वो ड्रेसिंग रुम में बेंच पर बैठे रहे और खिलाड़ियों को पानी पिलाते रहे।

और पढ़े: किसी एक्ट्रेस से कम नही इन तीन क्रिकेटरों की पत्नियों की खूबसूरती

मचा था बवाल

बांग्लादेश सीरीज में ऋषभ पंत अच्छा नहीं कर पाये और संजू को प्लेइंग इलेवन से बाहर रखने पर जमकर विवाद हुआ था, पूर्व क्रिकेटर्स और फैंस ने तो यहां तक कह दिया था कि संजू सैमसन का इस्तेमाल सिर्फ दौड़कर पानी पिलाने के लिये किया गया है, हालांकि 25 वर्षीय बल्लेबाज का कहना है कि उन्होने ऐसा कभी नहीं सोचा कि टीम में जगह बनाने के लिये पंत से उनकी कोई प्रतिस्पर्धा है।

संजू सैमसन

पंत प्रतिभाशाली क्रिकेटर है

संजू सैमसन ने कहा कि मुझे लगता है कि टीम में मेरी या फिर पंत की जगह सब टीम संयोजन पर निर्भर करता है, मैंने कभी पंत के साथ प्रतिस्पर्धा के बारे में नहीं सोचा, हम दोनों ने आईपीएल में दिल्ली डेयरडेविल्स के लिये खेलना शुरु किया था, हमने काफी समय साथ बिताया है, हम काफी अच्छे दोस्त हैं, वो काफी प्रतिभाशाली क्रिकेटर है, हमें साथ में खेलना पसंद है, संजू ने कहा कि मैंने ऋषभ के साथ काफी पारियां खेली है, जब लोग मेरे और उनके मुकाबले के बारे में बात करते हैं, तो मुझे उनके साथ खेलने के बारे में सोचना पसंद है, सिर्फ खेल ही नहीं हमने साथ में काफी मस्ती भी की है, मैं उनके साथ खेलने के लिये हमेशा उत्सुक हूं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.