Thursday, June 17, 2021
Homeक्रिकेट25 साल के पाकिस्तानी क्रिकेटर का दर्द, कहा-'अमेरिका से खेलूंगा पाकिस्तान छोड़ने...

25 साल के पाकिस्तानी क्रिकेटर का दर्द, कहा-‘अमेरिका से खेलूंगा पाकिस्तान छोड़ने का 1% भी पछतावा नहीं’

पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर समी असलम (Sami Aslam) जिन्होंने हाल ही में पाक के लिए क्रिकेट खेलना छोड़ा है उन्होंने कुछ चौंकाने वाले खुलासे किए हैं। समी असलम ने पाकिस्तान क्रिकेट पर फेवरेटिज्म का आरोप लगाया है। 25 साल के समी असलम जल्द ही अमेरिका की टीम से खेलते हुए नजर आने वाले हैं।

पाकिस्तान टीम से लगातार नजरअंदाज किए जाने के कारण समी असलम ने यह फैसला लिया जिसका उन्हें बिल्कुल भी पछतावा नहीं है। पाक पैशन को दिए इंटरव्यू के दौरान असलम ने कहा, अमेरिका में 3 साल का वक्त गुजारना पड़ता है क्रिकेट खेलने के लिए इस योग्यता को मैं 2023 में पूरा कर दूंगा। पाकिस्तान के लिए ना खेलने पर मुझे बिल्कुल भी पछतावा नहीं है।’

समी असलम ने आगे कहा, ‘पाकिस्तान में 2 साल के डिप्रेशन के बाद मैं अब बहुत खुश हूं। जिस तरह पाकिस्तान के कोच मुझसे बर्ताव करते थे उस वक्त मैं बहुत ज्यादा बुरी स्थिति में था। टीम से बाहर होने के बाद मैंने कई सवाल किए कि मैं क्यों नहीं चुना गया। मेरे साथ ऐसा बर्ताव क्यों हो रहा है लेकिन किसी ने भी जवाब नहीं दिया किसी ने कोई जिम्मेदारी नहीं ली और वे किसी और को दोष दे देते थे।’

समी असलम ने कहा, ‘मैंने लगातार अच्छा प्रदर्शन किया लेकिन फिर भी टीम में दोबारा नहीं चुना गया। जब तक आप इन चीजों को समाप्त नहीं करेंगे तब तक अच्छे क्रिकेटर तैयार नहीं हो सकते हैं। मेरे पास पाकिस्तान में से 100 से अधिक प्रथम श्रेणी के खिलाड़ियों के फोन आते हैं और वह भी अमेरिका में बसने की संभावना तलाश रहे हैं। यहां तक ​​कि वर्तमान में पाकिस्तान के घरेलू क्रिकेट में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ी भी यहां आने को इच्छुक हैं।’

Sami Aslam “There’s a 3-year eligibility & I will qualify to play for America in November 2023. I’ve not even 1% regret. I am really happy after being depressed in Pakistan for 2 years. I was in a bad place due to coaches & events in Pakistan & the way they treated me” #Cricket

— Saj Sadiq (@Saj_PakPassion) May 8, 2021

बता दें कि समी असलम ने पाकिस्तान के लिए 13 टेस्ट मैच और 4 एकदिवसीय मुकाबलों में शिरकत की है। इस दौरान उन्होंने कुछ खास प्रदर्शन नहीं किया। टेस्ट क्रिकट में उन्होंने 31.58 की औसत से 758 रन बनाए इस दौरान उन्होंने 7 अर्धशतक भी लगाए। उनका उच्चतम स्कोर 91 रनों का रहा है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments