Friday, June 18, 2021
Homeक्रिकेटवनडे में सबसे ज्यादा बार नॉट-आउट रहने वाले टॉप-5 बल्लेबाज, एक नाम...

वनडे में सबसे ज्यादा बार नॉट-आउट रहने वाले टॉप-5 बल्लेबाज, एक नाम है चौंकाने वाला

हर खिलाड़ी जब बल्लेबाजी के लिए मैदान पर उतरता है तो उसकी चाहत होती है कि वह नॉटआउट पवेलियन लौटे और अपनी टीम को जीत दिलाए। वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा नॉटआउट रहने वाले खिलाड़ियों में हम इस खेल के कुछ सबसे बेहतरीन फिनिशर मिले। लेकिन निचले क्रम में बल्लेबाजी करने वाले खिलाड़ी और खासकर गेंदबाज ही इस लिस्ट में शुमार रहे। आइए जानते हैं वनडे में सबसे ज्यादा बार नॉटआउट रहने वाले टॉप-5 बल्लेबाजों के बारे में।

एमएस धोनी (MS Dhoni)

वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट इतिहास में सबसे ज्यादा बार नॉटआउट पवेलियन लौटने का रिकॉर्ड भारत के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के नाम है। दुनिया के सबसे बेस्ट फिनिशर माने जाने वाले धोनी ने अपने करियर में खेले गए 350 वनडे मैच की 297 पारियों में 50.57 की शानदार औसत से 10773 रन बनाए, जिसमें 10 शतक और 73 अर्धशतक शामिल थे। इस दौरान धोनी 84 बार नॉटआउट रहे, जिसमें 47 बार भारतीय टीम को जीत मिली।

शॉन पोलक (Shaun Pollock)

साउथ अफ्रीका ने शॉन पोलक की बल्लेबाजी को कम आंका, इसलिए उन्होंने अपने करियर के दौरान ज्यादातर सातवें या आठवें नंबर पर ही बल्लेबाजी की। पोलक ने 303 वनडे मैचों की 205 पारियों में 26.45 की औसत से 3519 रन बनाए। जिसमें उन्होंने एक शतक और 14 अर्धशतक भी जड़े। मुख्य रूप से गेंदबाजी कनरे वाले पोलक अपने करियर में 72 बार नॉटआउट पवेलियन लौटे।

चमिंडा वास (Chaminda Vaas)

श्रीलंका के सबसे सफल तेद गेंदबाज चमिंडा वास ने अपन वनडे करियर में खेले गए 322 मैचों की 220 पारियों में 13.68 की औसत से 2025 रन बनाए। इस दौरान वह 72 बार नॉटआउट रहकर वापस पवेलियन गए। बता दें कि वनडे में गेंदबाजी में उन्होंने 399 विकेट अपने खाते में डाले।

माइकल बेवन (Michael Bevan)

एमएस धोनी से पहले ऑस्ट्रेलिया के माइकल बेवन वनडे क्रिकेट के सबसे सफल फिनिशर माने जाते थे। मिडल ऑर्डर में बल्लेबाजी करने वाले बेवन वनडे अपने टीम के सबसे भरोसेमंद बल्लेबाजों में से एक थे और उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के लिए शानदार प्रदर्शन किया। बेवन ने ऑस्ट्रेलिया के लिए खेले गए 232 वनडे मैचों की 196 पारियों में 53.58 की औसत से 6912 रन बनाए, जिसमें 6 शतस और 46 अर्धशतक शामिल थे। इस दौरान बेवन 67 बार नॉआउट पवेलियन लौटे।

मुथैया मुरलीधरन (Muttiah Muralitharan)

इस लिस्ट में आखिरी नाम थोड़ा चौंकाने वाला है। श्रीलंका के महान स्पिनर मुथैया मुरलीधरन वनडे में सबसे ज्यादा नॉटआउट रहने के मामले में पांचवें स्थान पर हैं। अपने पूरे करियर में मुरलीधरन ने नंबर 10 और 11 पर ही बल्लेबाजी की फिर भी वह 350 मैच की 162 पारियों में 63 बार नॉटआउट रहे। उन्होंने कुल 674 रन बनाए, जिसमें उनका टॉप स्कोर नाबाद 33 रन रहा।  हालांकि नके नाम इस फॉर्मेट में सबसे ज्यादा 534 विकेट दर्ज हैं।

source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments