Thursday, June 17, 2021
Homeक्रिकेटभारत के खिलाफ वनडे मैच में सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी प्रदर्शन करने वाले टॉप...

भारत के खिलाफ वनडे मैच में सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी प्रदर्शन करने वाले टॉप 5 गेंदबाज

भारत की टीम हमेशा से अपनी मजबूत बल्लेबाजी यूनिट के लिए दुनियाभर में मशहूर रही हैं लेकिन कुछ ऐसे भी गेंदबाज रहे हैं, जिन्होंने भारत की शक्तिशाली बल्लेबाजी क्रम को अकेले ही तहस- नहस कर दिया हैं. आज इस लेख में हम वनडे मैच में भारत के विरुद्ध सर्वोच्च गेंदबाजी प्रदर्शन करने वाले टॉप 5 गेंदबाजों के बारे में जानेगे.

5) शेन बांड- 6/19 (न्यूजीलैंड) 2005

विडियोकोन त्रिकोणीय सीरीज का दूसरा का मुकाबला बुलवाओ में भारत और न्यूजीलैंड के बीच खेला गया था. इस मैच में न्यूजीलैंड के पहले बल्लेबाजी करते हुए क्रैग मैकमिलन के 54 रनों की मदद से 215 रन बनायें थे.

जिसके जवाब में, कीवी तेज गेंदबाज शेन बांड इंडियन बल्लेबाजों पर कहर बनकर टूटे और 9 ओवरों में सिर्फ 19 रन देकर 6 विकेट अपने नाम की थी. जिसके कारण पूरी भारतीय टीम सिर्फ 164 रनों पर ढेर हो गयी थी.

4) इमरान खान- 6/14 (पाकिस्तान) 1985

1985 में रोथमैन फोर-नेशन कप के पहले मुकाबले में भारत की टीम ने पाकिस्तान के विरुद्ध पहले बल्लेबाजी का फैसला का किया था. जिसके बाद इमरान खान ने घातक गेंदबाजी करते हुए 10 ओवरों में सिर्फ 14 रन देकर 6 विकेट झटके थे.

जिसके जवाब में पाकिस्तान की टीम भी सिर्फ 87 रनों पर ढेर हो गयी थी. भारत की ओर से कपिल देव ने 3 विकेट अपने नाम किये थे.

3) अजंता मेंडिस- 6/13 (श्रीलंका) 2008

2008 में एशिया कप के फाइनल में भारत और श्रीलंका के बीच एक एकतरफा मुकाबला देखने को मिला था. मैच में श्रीलंका ने पहले बैटिंग करते हुए 50 ओवरों में सनथ जयसूर्या ने 125 रनों की मदद से 273 रन बनायें थे.

जिसके जवाब में इंडियन सलामी बल्लेबाज ने ताबड़तोड़ शुरुआत दी और सिर्फ 36 गेंदों पर 60 रनों की तूफानी पारी खेली. हालाँकि जैसे ही श्रीलंका के मिस्ट्री गेंदबाज अजंता मेंडिस बोलिंग के लिए आये तो देखते ही देखते पूरी इंडियन टीम ताश के पत्तों की तरह ढह गयी.

मेंडिस ने सिर्फ 8 ओवरों में 13 रन देकर सहवाग, युवराज, रैना और रोहित शर्मा सहित भारत के 6 बल्लेबाजों को आउट किया था.

2) अकीब जावेद- 7/37 (पाकिस्तान) 1991

1991 में विल्स कप के फाइनल में पाकिस्तान और भारत की टीम शारजाह के मैदान पर आमने-सामने थी. मैच में पाकिस्तानी टीम ने पहले बैटिंग करते हुए जाहिद फज़ल के 98 रनों की मदद से 50 ओवरों में 262/6 का स्कोर बनाया था.

जिसके जवाब में, आकिब जावेद ने घातक गेंदबाजी करते हुए टीम इंडिया को सिर्फ 190 रनों पर पवेलियन भेज दिया था. जावेद ने 10 ओवरों में सिर्फ 37 रन देकर 7 इंडियन बल्लेबाजों को आउट किया था.

1) मुथैया मुरलीधरन- 7/30 (श्रीलंका) 2000

कोका-कोला चैंपियंस ट्रॉफी 2000 के दूसरे लीग मुकाबले में भारत का सामना शारजाह के मैदान पर श्रीलंका के विरुद्ध हुआ. मैच में श्रीलंका टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए मर्वन अटापट्टू के नाबाद 102 और महेला जयवर्द्धने के 128 रनों की मदद से 50 ओवरों में 294/5 का स्कोर बनाया था.

जिसके जवाब में, सचिन तेंदुलकर ने तूफानी पारी खेलते हुए सिर्फ 54 गेदों पर 61 रनों की तूफानी पारी खेली. लेकिन जैसे ही स्पिनर मुरलीधरन गेंदबाजी के लिए आये तो देखते ही देखते भारत की पूरी टीम सिर्फ 226 रनों पर पवेलियन लौट गयी. मुरलीधरन ने 10 ओवरों में 30 रन देकर 7 विकेट झटके थे.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments