IPL का पहला सुपर ओवर फेंकने वाला गेंदबाज करना चाहता है वापसी

0

2009 में इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) दक्षिण अफ्रीका में खेला गया था और राजस्थान रॉयल्स के लिए एक युवा तेज गेंदबाज खेलता नजर आया था।

18 वर्षीय कामरान खान ने उस सीजन खूब प्रभावित किया था और शेन वॉर्न ने उन्हें भारत का भविष्य बताया था। हालांकि, उस एक सीजन के बाद कामरान एकदम गायब हो गए।

अब कामरान ने दोबारा क्रिकेट की प्रैक्टिस कर रहे हैं और वह वापसी करने के लिए प्रयासरत हैं।

क्रिकेट प्रैक्टिस के लिए ड्राइव करते हुए आया गांव- कामरान

लॉकडाउन के दौरान मुंबई के साकी नाका में उनकी सोसाइटी के लोगों ने उन्हें प्रैक्टिस करने से रोका।

अनलॉक 1 में कामरान अपने गांव आजमगढ़ चले आए और यहां आकर वह गांव के कुछ लड़कों के साथ कड़ी प्रैक्टिस कर रहे हैं।

उन्होंने बताया, “सोसाइटी की पार्किंग में मेरी गेंदबाजी पर लोगों ने सवाल उठाने शुरु कर दिए तो मैं गांव आने का मौका तलाश रहा था। मैं मुंबई से गांव तक ड्राइव करते हुए आया।”

मेरी किसानी करने वाली रिपोर्ट्स झूठी- कामरान

IPL में एक सीजन खेलने के बाद कामरान लाइमलाइट से दूर हो गए और बीच में उनके किसानी करके गुजारा करने की खबरें खूब चलाई गईं। हालांकि, कामरान ने इन तरह की खबरों को सिरे से खारिज कर दिया।

उन्होंने कहा, “मेरे बारे में ये सारी रिपोर्ट्स झूठी हैं। मैंने कभी भी किसानी में हाथ नहीं आजमाया और ज़्यादातर समय मैंने मुंबई की संस्थाओं के लिए प्रोफेशनल क्रिकेट खेली।”

कामरान के एक्शन को पाया गया था संदिग्ध

140 से तेज गति के सात गेंदबाजी करने वाले कामरान का एक्शन भी लसिथ मलिंगा की तरह स्लिंगी था। 2009 IPL के बाद उनके एक्शन को संदिग्ध पाया गया और उन्होंने भी इस बात को स्वीकार किया है।

कामरान खान

कामरान ने खेले हैं केवल दो फर्स्ट-क्लास मैच

2009 IPL में राजस्थान के साथ अपना डेब्यू करने वाले कामरान ने नौ IPL मैचों में नौ विकेट लिए हैं।

2010 तक राजस्थान के साथ रहने वाले कामरान ने 2011 में पुणे वारियर्स इंडिया ज्वाइन किया था।

2013 में श्रीलंका की प्रीमियर लीग टूर्नामेंट में उन्होंने कोल्ट्स क्रिकेट क्लब के लिए अपना फर्स्ट-क्लास डेब्यू किया और तीन विकेट लिए। केवल दो फर्स्ट-क्लास मैच ही खेल सके कामरान ने पांच विकेट लिए हैं।

कामरान ने फेंका था IPL का पहला सुपर ओवर

2009 IPL में कोलकाता नाइटराइडर्स के खिलाफ कामरान को आखिरी ओवर में सात रन बचाने की जिम्मेदारी दी गई थी।

सौरव गांगुली और अजीत अगरकर क्रीज़ पर मौजूद थे, लेकिन कामरान ने पांचवीं गेंद पर गांगुली को आउट करके मैच टाई करा लिया था।

क्रिस गेल और ब्रेंडन मैकुलम के खिलाफ कामरान ने सुपर ओवर फेंका और उनके ओवर में 15 रन बने। आखिरी गेंद पर उन्होंने गेल का विकेट भी लिया था।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप हमें सोशल मीडिया फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर को फॉलो करें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.