क्या फिक्स था 2011 का वर्ल्डकप? आईसीसी ने दिया बड़ा बयान

0

शुक्रवार को इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल की ओर से ये स्‍पष्‍ट रूप से कह दिया गया है कि उसे 2011 विश्व कप के फाइनल मुकाबले पर शक करने का एक भी कारण नज़र नहीं आता है । काउंसिल की एंटी करप्शन यूनिट के जनरल मैनेजर एलेक्स मार्शल ने एक आधिकारिक बयान जारी किया, जिसमें कहा गया है कि 2011 विश्व कप के फाइनल मुकाबले में फिक्सिंग से जुड़ा उन्हें ऐसा कोई सबूत नहीं मिला है, जिससे इस मैच की जांच हो । आपको बता दें ICC का यह बयान श्रीलंका पुलिस के इस मैच के फिक्स होने की जांच बंद करने के बाद आया है ।

शक करने का कोई कारण नहीं मिला- ACU

एलेक्स मार्शल ने अपने बयान में कहा है कि – ‘हमें मेन्स 2011 विश्व कप फाइनल मुकाबले पर शक करने का एक भी कारण नहीं मिला । इस मैच के फिक्स होने की खबर सामने आने के बाद आईसीसी इंटीग्रिटी यूनिट ने इस मामले को देखा । लेकिन हमारे सामने ऐसा कोई भी सबूत पेश नहीं किया गया, जो इस मैच के फिक्स होने की बात का समर्थन करे।’

श्रीलंका का दावा खारिज

एलेक्‍स मार्शल ने श्रीलंका के पूर्व खेल मंत्री के दावे को भी खारिज कर दिया, जिसमें उन्होंने कहा था कि आईसीसी को फिक्सिंग के आरोपों से संबंधित एक पत्र भेजा गया था । मार्शल ने स्‍पष्‍ट किया कि श्रीलंका के पूर्व खेल मंत्री की ओर से इस मामले से जुड़ा कोई पत्र आईसीसी को नहीं मिला है, इसका कोई रिकॉर्ड नहीं है । मार्शल ने कहा कि ICC मैच फिक्सिंग के आरोपो को गंभीरता से लेती है, लेकिन हम कह सकते हैं कि इस मैच के फिक्स होने का एक भी प्रमाण नहीं है ।

वर्ल्डकप

पूर्व खेल मंत्री ने लगाया था आरोप

दरअसल, श्रीलंका के पूर्व खेल मंत्री महिंदानंदा ने आरोप लगाया था कि श्रीलंका ने 2011 विश्व कप का फाइनल मुकाबला भारत को बेच दिया गया था । महिंदानंदा का आरोप था कि टूर्नामेंट का फाइनल मुकाबला फिक्स था । हालांकि तब पूर्व क्रिकेटर कुमार संगाकारा और महेला जयावर्धने ने महिंदानंदा के इन आरोपो को सिरे से खारिज किया था । वर्ल्‍ड कप 2011 के फाइनल मुकाबले में शतक लगाने वाले महेला जयावर्धने ने तो फिक्सिंग की बात को बकवास बताया था ।

भारत-श्रीलंका में हुआ था फाइनल मुकाबला

साल 2011 के वर्ल्‍ड कप फाइनल में भारत और श्रीलंका आमने सामने थे । इस मैच में श्रीलंका ने महेला जयावर्धने के नाबाद 103 रनों की बदौलत 50 ओवर में 274 रन बनाए थे । जिसके जवाब में शून्य पर पहला विकेट खोने के बावजूद भारत ने 48.2 ओवर में 6 विकेट से मैच जीत लिया था । भारत की ओर से गौतम गंभीर ने 97 और एमएस धोनी ने 91 रनों की पारियां खेली थीं । इस मैच के खत्‍म होने के बाद भारतीय खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर को कंधे पर लेकर पूरे ग्राउंड में घूमे थे ।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप हमें सोशल मीडिया फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर को फॉलो करें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.