Sunday, July 25, 2021
Homeक्रिकेट4 मौके जब भारतीय बल्लेबाजों ने विरोधी टीम के सभी खिलाड़ियों से...

4 मौके जब भारतीय बल्लेबाजों ने विरोधी टीम के सभी खिलाड़ियों से ज्यादा रन बनाए

भारत ऐतिहासिक रूप से महान बल्लेबाजो की खोज करने के लिए जाना जाता है. सुनील गावस्कर से लेकर विराट कोहली तक बल्लेबाजी के कई दिग्गज रहे हैं. कुछ बल्लेबाजी प्रदर्शन इतने शानदार थे कि उन्होंने पूरी दुनिया में धूम मचा दी. आज के लेख में, हम 4 मौकों पर एक नज़र डालेंगे जब एक भारतीय ने एक वनडे मैच में विरोधी टीम से अधिक रन बनाए.

4) सचिन तेंदुलकर- 152 बनाम नामीबिया 130/10

‘मास्टर ब्लास्टर’ ने 2003 विश्व कप में नामीबिया के खिलाफ यह रिकॉर्ड बनाया था. उन्होंने मैच में 152 रन बनाए. नामीबिया जवाब में लड़खड़ा गया, टीम 130 रन के स्कोर पर पवेलियन लौट गई. यह भारत के लिए एक आसान जीत थी, और इसका अधिकांश श्रेय सचिन तेंदुलकर और सौरव गांगुली की बल्लेबाजी को दिया जाता हैं.

3) युवराज सिंह -102* बनाम बांग्लादेश 76/10

यह मैच बांग्लादेशी प्रशंसकों के लिए एक बुरा सपना था, क्योंकि भारत ने देश की राजधानी में मेजबान टीम को बुरी तरह शिकस्त दी थी. बांग्लादेश यह मैच 200 रनों के बड़े अंतर से हार गया. युवराज सिंह की 102 रनों की शानदार नाबाद पारी ने भारत को प्रतिस्पर्धी कुल 276 के स्कोर पर पहुंचा दिया. जवाब में, बांग्लादेश ने आत्मसमर्पण किया और पूरी टीम 76 रनों पर आउट हो गई. इस जीत ने भारत को टीवीएस कप में बांग्लादेश पर बढ़त दिला दी.

2) रोहित शर्मा- 162 vs विंडीज 153/10

रोहित शर्मा एक बार फिर इस लिस्ट में शामिल होने जा रहे हैं. मुंबईकर डैडी-सैकड़ों रन बनाने के बादशाह हैं. उन्होंने मुंबई में अपने घरेलू मैदान पर वेस्टइंडीज के खिलाफ 162 रन बनाए. उनकी पारी ने भारत को 377 रनों का बड़ा स्कोर बनाने में मदद की. वेस्टइंडीज ने भारत के खिलाफ ज्यादा लड़ाई नहीं लड़ी, क्योंकि वे नियमित रूप से विकेट खोते रहे. वे अंत में केवल 153 रन बनाने में सफल रहे, जो शर्मा के व्यक्तिगत स्कोर से 9 रन कम थे.

1) रोहित शर्मा – 264 vs श्रीलंका 251/10

यह पारी रोहित शर्मा द्वारा अब तक खेली गई सबसे बड़ी वनडे पारियों में से एक है. शर्मा ने एक पारी में अविश्वसनीय 264 रन बनाए. आम तौर इतने रन एक पारी में पूरी टीम बनाती हैं लेकिन रोहित शर्मा आम आदमी नहीं हैं. यह एक असहाय गेंदबाजी लाइनअप के खिलाफ ऐतिहासिक प्रदर्शन था. भारत ने निर्धारित 50 ओवरों में 404/5 का विशाल स्कोर खड़ा किया. जवाब में, श्रीलंका ने कभी ऐसा नहीं देखा कि उनके पास जीतने का मौका था, क्योंकि उन्होंने नियमित अंतराल पर विकेट गंवाए. वे 251 रन पर आउट हो गए. लंका मैच भारी अंतर से हार गई, और ऐसा लग रहा था कि वे पहली पारी में ही खेल हार गए थे.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments