Sunday, August 1, 2021
Homeक्रिकेट7 गेंदबाज जिन्होंने अपने करियर के दौरान कभी नहीं फेंकी नो-बॉल

7 गेंदबाज जिन्होंने अपने करियर के दौरान कभी नहीं फेंकी नो-बॉल

क्रिकेट के खेल में एक गेंदबाज के लिए सटीक लाइन लेंथ काफी महत्वपूर्ण हैं. अन्तराष्ट्रीय क्रिकेट में ऐसा कई बार देखने को मिला हैं जब गेंदबाज द्वारा फेंकी गयी एक नॉ-बॉल ने मैच का रुख ही बदल दिया हैं. आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी फाइनल के 2017 में जसप्रीत बुमराह की नॉ-बॉल कोई भी इंडियन फैन नहीं भूल सकता हैं.

आज इस लेख में हम 7 क्रिकेटरों के बारे में जानेगे, अपने अन्तराष्ट्रीय करियर में कभी नॉ-बॉल नहीं डाली है.

1) इयान बोथम

इंग्लैंड के पूर्व महान खिलाड़ी इयाम बोथम टेस्ट क्रिकेट इतिहास के सबसे महान ऑलराउंडर माने जाते हैं. बोथम की तूफानी बल्लेबाजी और सटीक लाइन लेंथ की गेंदबाजी हमेशा विरोधी खिलाड़ियों को परेशान करती थी.

क्रिकेटर से कमेंटेटर बने बोथम ने टेस्ट और वनडे के दौरान कुल 128 मैचों करियर के दौरान लगभग 27000 से अधिक गेंदें फेंकी. बॉथम ने इस दौरान 383 टेस्ट और 145 एकदिवसीय विकेट भी हासिल किये लेकिन कभी भी नो-बॉल नहीं फेंकी. 1976 में अपना अंतरराष्ट्रीय पदार्पण करने के वाले इयान 1992 में संयास लिया था.

2) इमरान खान

लाहौर में जन्मे इस क्रिकेटर ने 88 टेस्ट और 175 एकदिवसीय मैचों में 13000 से अधिक गेंदे डाली. इस उन्होंने एक भी नो-बॉल नहीं डाली और 362 टेस्ट व 88 एकदिवसीय विकेट झटकी. उन्होंने 1992 का विश्व कप फाइनल भी पाकिस्तान को विजेता बनाकर क्रिकेट से संन्यास का ऐलान कर दिया था और राजनीति में अपना करियर शुरू किया और आज वह पाकिस्तान के वजीरेआजम हैं.

3) डेनिस लिली

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज डेनिस लिली क्रिकेट इतिहास के सबसे तेज गेंदबाजों में से एक रहे हैं. लिली ने अपने करियर में 70 टेस्ट और 63 वनडे खेले, जिस दौरान उन्होंने लगभग 20000 से अधिक गेंदे डाली और क्रमश: 355 और 103 विकेट हासिल की लेकिन कभी भी नॉ-बॉल नहीं डाली.

4) बॉब विलिस

पूर्व क्रिकेटर बॉब विलिस वर्तमान में टेस्ट क्रिकेट में इंग्लैंड के लिए चौथे सबसे अधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं. अब तक के सबसे साहसी तेज गेंदबाजों में से एक, बॉब विलिस ने इयान बॉथम के साथ एक शक्तिशाली दबाजी कॉम्बिनेशन बनाया था. जबकि उन्होंने दोनों घुटनों पर ऑपरेशन कराया लेकिन बिना किसी दर्द के गेंदबाजी की.

एकदिवसीय और टेस्ट क्रिकेट में 154 मैचों मेंपूर्व दिग्गज ने 20000 के करीब गेंदे डाली लेकिन कभी भी उन्होंने नॉ-बॉल नहीं डाली.

5) लांस गिब्स

वेस्टइंडीज के पूर्व स्पिनर लांस गिब्स अपने देश के सबसे सफल स्पिनर थे. वेस्टइंडीज द्वारा उत्पादित तेज गेंदबाजों के एक महासागर के बीच, गिब्स अपने घातक बदलावों के माध्यम से काफी लोकप्रिय हासिल की थी. 79 टेस्ट मैचों में ऑफ स्पिनर के 309 विकेट की.

309 विकेट के दौरान गिब्स ने 18 बार पारी में पांच या उससे अधिक विकेट लेने का कारनामा भी किया. अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में गिब्स के 17 साल के करियर के दौरान, एक भी नॉ-बॉल नहीं डाली.

6) फ्रेड ट्रूमैन

टेस्ट करियर में कई ऐसे गेंदबाज रहे हैं जो कई मायने में फ्रेड ट्रूमैन से बेहतर रहे हैं लेकिन ट्रूमैन की सबसे खास बात उनकी लाइन लेंथ थी. जिसके कारण ही उन्होंने 67 टेस्ट मैचों में 300 टेस्ट विकेट हासिल किये लेकिन कभी भी उनका पैर लाइन से आगे नहीं गया.

7) ग्रेम स्वान

इंग्लैंड के पूर्व स्पिनर ग्रेम स्वान भी उन खिलाडियों की सूची में कभी नॉ-बॉल नहीं डाली हैं. 13 वर्षो के अन्तराष्ट्रीय करियर में स्वान ने करीब 19000 गेंदे डाली लेकिन कभी भी नॉ-बॉल नहीं डाली.

स्वान ने 60 टेस्ट मैचों के करियर में 255 विकेट अपने नाम किये जबकि वनडे और अन्तराष्ट्रीय टी20 में उन्होंने क्रमश: 104 और 51 बल्लेबाजों को पवेलियन की राह दिखाई.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments