logo
5 खिलाड़ी जो टी-20 वर्ल्ड कप के लिए चुनी गई भारतीय टीम में जगह के हकदार नहीं थे, तीसरा नाम चौंकाने वाला

17 अक्टूबर से यूएई और ओमान में खेले जाने वाले आईसीसी टी-20 वर्ल्ड कप को लेकर लगभग सभी देशों ने अपनी अंतिम 15 सदस्यों की टीम का ऐलान कर दिया है। लेकिन जिस टीम के ऐलान को लेकर सबसे ज्यादा सुर्खियां देखने को मिली वह भारतीय टीम थी। दरअसल, 8 सितंबर को जब टीम का ऐलान किया गया तो उसमें कई ऐसे चौंकाने वाले नाम शामिल थे, जिनको लेकर सिर्फ यह अंदाजा लगाया जा रहा था, कि यह टीम में जगह बना सकते हैं।

 

17 अक्टूबर से यूएई और ओमान में खेले जाने वाले आईसीसी टी-20 वर्ल्ड कप को लेकर लगभग सभी देशों ने अपनी अंतिम 15 सदस्यों की टीम का ऐलान कर दिया है। लेकिन जिस टीम के ऐलान को लेकर सबसे ज्यादा सुर्खियां देखने को मिली वह भारतीय टीम थी। दरअसल, 8 सितंबर को जब टीम का ऐलान किया गया तो उसमें कई ऐसे चौंकाने वाले नाम शामिल थे, जिनको लेकर सिर्फ यह अंदाजा लगाया जा रहा था, कि यह टीम में जगह बना सकते हैं।

वहीं कुछ नाम ऐसे भी हैं, जिनको लेकर किसी ने भी यह नहीं सोचा था कि उनको सीधे टी-20 वर्ल्ड कप टीम में जगह मिल जाएगी। हालांकि, भारत की टी-20 वर्ल्ड कप टीम में युवा जोश के साथ अनुभवी खिलाड़ियों का सही तालमेल देखने को मिल रहा है और पिछले कुछ सालों से इंडियन प्रीमियर लीग में लगातार शानदार प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ी वर्ल्ड कप टीम में जगह बनाने में सफल दिखाई दिए हैं। हम आपको ऐसे 5 नामों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनके चयन ने सभी को हैरान किया है।

5 – राहुल चाहर

युवा लेग स्पिनर और आईपीएल में मुंबई इंडियंस टीम का हिस्सा राहुल चाहर ने अभी तक भारतीय टीम के लिए सिर्फ 5 टी-20 मैच ही खेले हैं, जिसमें वह 7 विकेट हासिल कर सके हैं। युजवेंद्र चहल जो भारतीय टीम के प्रमुख लेग स्पिनर माने जा रहे थे, उनको टीम में चयनकर्ताओं ने जगह ना देते हुए राहुल को मौका देने का फैसला किया जो सभी के लिए थोड़ा हैरानी भरा जरूर कहा जा सकता है क्योंकि अनुभव के मामले में चहल कहीं आगे दिखाई देते हैं।

4 – वरुण चक्रवर्ती

मिस्ट्री स्पिनर के तौर पर अपनी पहचान बनाने वाले वरुण चक्रवर्ती को लेकर पिछले 1 साल से काफी चर्चा लगातार देखने को मिल रही थी। वरुण को श्रीलंका के दौरे पर पहली बार अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू करने का मौका मिला था। वहीं, IPL में भी वह अभी तक सिर्फ 21 मैच ही खेले हैं और इतने कम अनुभव के बावजूद चयनकर्ताओं का उन्हें वर्ल्ड कप टीम में शामिल करना अचंभित जरूर करता है।

3 – ईशान किशन

भारतीय टीम के पास पहले से ही 2 विकेटकीपर मौजूद थे, जिसमें एक लोकेश राहुल और दूसरे ऋषभ पंत। इन दोनों ही खिलाड़ियों का अंतिम एकादश में खेलना भी पूरी तरह से तय है। ऐसी स्थिति में टीम तीसरे विकेटकीपर-बल्लेबाज ईशान किशन के साथ खेलने का फैसला करेगी इसको लेकर थोड़ी हैरानी जरूर होती है। किशन ने अपनी आक्रामक बल्लेबाजी से जरूर सभी को प्रभावित किया है, लेकिन प्रमुख टीम में उनकी जगह श्रेयस अय्यर जैसे खिलाड़ी को शामिल किया जा सकता था।

2 – अक्षर पटेल

रवींद्र जडेजा के रूप में टीम के पास पहले से ही एक बाएं हाथ का ऐसा स्पिन गेंदबाज मौजूद है, जो बल्ले से भी निचले क्रम में टीम के लिए महत्वपूर्ण योगदान देने में सक्षम है। ऐसे में अक्षर पटेल जिन्होंने अभी तक सिर्फ 12 अंतरराष्ट्रीय टी-20 मैच खेले हैं, उनका चयन वर्ल्ड कप टीम में होना अंचभित जरूर करता है। अक्षर अभी तक भारतीय टीम के लिए टी-20 फॉर्मेट में सिर्फ 9 विकेट ही हासिल कर पाए हैं।

1 – रविचंद्रन अश्विन

इस खिलाड़ी के चयन ने जरूर सबसे ज्यादा सुर्खियां बटोरी हैं। साल 2017 की जुलाई में भारतीय टीम के लिए आखिरी लिमिटेड ओवर्स मैच खेलने वाले अनुभवी ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन की सीधे टी-20 वर्ल्ड कप टीम में वापसी होने को लेकर किसी ने भी कल्पना नहीं की थी। हालांकि, वाशिंगटन सुंदर के चोटिल होने के चलते टीम में अश्विन को उनके विकल्प के तौर पर शामिल किया गया है। अश्विन अभी तक 52 अंतरराष्ट्रीय टी-20 विकेट हासिल कर चुके हैं।