घायल होने के बावजूद पूरे जज्बे के साथ मैदान पर डटे रहे ये महान खिलाड़ी, बनाए रिकॉर्ड्स

0

क्रिकेट खेलने के साथ-साथ क्रिकेटरों को कई सारी दिक्कतों का सामना भी करना पड़ता है. यहां तक कि मैदान में कई बार खिलाड़ियों का चोटिल हो जाना भी आम बात होती है. लेकिन इस जख्म को खिलाड़ी कैसे भरेगा ये उसी पर डिपेंड होता है. कुछ लोग तो चोट लगने के बाद कभी मैदान पर दिखाई ही नहीं देते. या यूं कहें कि उनका करियर उसके बाद खत्म हो जाता है. दरअसल ये सब हम इसलिए कह रहे हैं, क्योंकि आज की खबर में हम उन्हीं खिलाड़ियों के बारे में बात करने जा रहे हैं. जिन्हें चोट तो बहुत लगी, लेकिन इसकी आंच उन्होंने कभी अपने करियर पर नहीं आने दी. यहां तक कि चोट लगने के बाद भी उनके हौसले कभी कम नहीं हुए, और उन्होंने मैदान पर जज्बे के साथ से खेला. आने वाली नई पीढ़ियों के लिए ये खिलाड़ी बहुत बड़े उदाहरण हैं.

अनिल कुंबले

अनिल कुंबले

इस लिस्ट में सबसे पहले हम बात करेंगे, भारतीय पूर्व कप्तान अनिल कुंबले की. जिनका जज्बा देखकर आप भी उत्साह से भर जाएंगे. इसके साथ ही आप उस हादसे के बारे में भी सुनकर हैरान रह जाएंगे जो अनिल कुंबले के साथ हुआ. दरअसल साल 2002 की बात है. जब एंटिगा टेस्ट में अनिल कुंबले बल्लेबाजी कर रहे थे. इसी दौरान अचानक से मर्वन ढिल्लन की एक गेंद कुंबले के जबड़े पर तेजी से लगी. यहां तक कि उनके थूक से लगातार खून आता रहा. लेकिन कुंबले ने इस हादसे के बाद भी बैटिंग करना जारी रखा. उन्होंने मैदान पर बैटिंग करने के दौरान अपने आपको ऐसे दिखाया जैसे उन्हें कुछ नहीं हुआ है. लेकिन जब इंडिया टीम की पारी खत्म हुई और उनका मेडिकल टेस्ट हुआ तो पता चला कि इस घटना में उनका जबड़ा टूट गया है और वह आगे मैच में हिस्सा नहीं लेंगे. इसके बाद ये डिसाइड किया गया कि अगले दिन ही उन्हें भारत आने के लिए रवाना किया जाएगा. लेकिन इस बीच कुंबले ने वो कारनामा किया वो शायद आने वाली पीढ़ियों के लिए एक मिसाल बन गया है. इस दौरान कुंबले ने चेहरे पर बैंडेज पट्टी बंधे होने के बाद भी 14 ओवर गेंदबाजी की और ब्रायन लारा का विकेट चटकाया.

और पढ़े: सचिन को आउट करने के बाद इस खिलाड़ी को मिली थी जान से मरने की धमकी

गैरी कर्स्टन

गौरी कर्स्टन

इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर बात करते हैं कर्स्टन की. दरअसल लाहौर में दक्षिण अफ्रीका और पाकिस्तान के बीच मैच शुरू हुआ. मैच के शुरूआत में ही गिब्स और कैलिस पवेलियन लौट गए. उसके बाद तीसरा और बड़ा झटका तब लगा जब शोएब अख्तर की गेंद को पुल करने के चक्कर में कर्स्टन चूके और उनके चेहरे पर गेंद आकर तेजी से लगी. इस दौरान गेंद इतनी तेज लगी थी कि कर्स्टन मैदान पर ही घुटनों के बल बैठ गए. ऐसे में पाक टीम के सभी खिलाड़ियों ने उन्हें घेर लिया. कर्स्टन का जब एक्स-रे हुआ तो उसमें पता चला कि उनकी नाक टूट गई है. हालांकि इस मैच में दक्षिण अफ्रीका तो हार गई. लेकिन कर्स्टन के एफर्ट्स को आज भी याद किया जाता है.

मैल्कम मार्शल

मैल्कम मार्शल

इस लिस्ट में तीसरे और आखिरी नंबर पर बात करते हैं मैल्कम मार्शल की. जो विंडीज के महान गेंदबाजों में शुमार हैं. दरअसल इंग्लैंड के खिलाफ हैडिग्ले टेस्ट में मार्शल के हाथ का बायां अंगूठा दो जगह से टूट गया. ऐसे में जब इस बारे में इंग्लैंड टीम को पता चला तो उन्हें लगा कि ये उनकी टीम के लिए बड़ा फायदा हो सकता है. इस दौरान तीसरे दिन विंडीज लैरी गोम्स और जोएल गॉर्नर ने खेलते हुए 80 रन की बड़ी साझेदारी की थी. लेकिन अचानक से ही गार्नर नौवें विकेट के रूप में आउट हो गए तो ऐसा लगा कि मैच में अब कोई खेलने नहीं उतरेगा.लेकिन जब मैदान पर मार्शल बैटिंग के लिए आए तो हर कोई वहां मौजूद दंग था. अंगूठा टूटने के बाद भी मार्शल ने एक हाथ से बल्लेबाजी की और लैरी गोम्स का शतक पूरा करवाने में मदद की. इतना ही नहीं दिलचस्प बात तो ये थी इस मैच में विंडीज ने जीत भी हासिल की थी.

Leave A Reply

Your email address will not be published.