हिंदू लड़की के लिए छोड़ दिया था मुल्क, अब PAK के लिए क्रिकेट ना खेल पाने का अफसोस

0

क्रिकेट (Cricket) जगत के खिलाड़ियों से जुड़ी अक्सर कुछ ऐसी खबरें सामने आ ही जाती हैं, जिन्हें वायरल होने में वक्त नहीं लगता है. इस बीच दक्षिण अफ्रीका के दिग्गज लेग स्पिनर इमरान ताहिर (Cricketer Imran Tahir) को लेकर एक ताजा जानकारी सामने आई है. दरअसल ताहिर को आज भी अफसोस होता है कि उन्हें पाकिस्तान की तरफ से खेलने का मौका ही नहीं दिया गया. दरअसल ये वही ताहिर हैं जो क्रिकेट मैदान में विकेट लेने के बाद अलग ही तरीके का सेलीब्रेशन मनाते हैं. उनका ये अंदाज अक्सर लोगों की बीच सुर्खियों में बना रहता है. आईपीएल में ताहिर धोनी की कप्तानी में चेन्नई सुपरकिंग्स की ओर से खेलते हैं. पिछले कई सालों से ताहिर दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेट टीम की तरफ से बेहतर प्रदर्शन करते आ रहे हैं. लेकिन लाहौर में जन्मे स्पिनर ताहिर को शुरुआती दिनों में वहां खेलने के बाद भी राष्ट्रीय टीम में नहीं शामिल किया गया.

इस बारे में ताहिर ने पाकिस्तान के जिओ सुपर के साथ हुए इंटरव्यू में बात करते हुए कहा कि, “मैनें क्रिकेट खेलने की शुरूआत लाहौर से की थी, और जिस मुकाम पर मैं पहुंचा चुका हूं उसमें इसका बड़ा योगदान है. उन्होंने कहा कि ज्यादा समय तक मैनैं क्रिकेट पाकिस्तान में ही खेला है. बावजूद इसके कि मुझे टीम में खेलने का कभी मौका ही नहीं दिया गया. जिसकी नाराजगी आज भी मेरे अंदर हैं. ताहिर ने बताया कि अचानक से अपने देश पाकिस्तान को छोड़ कर चले जाना काफी मुश्किल भरा था.

लेकिन उस दौरान ईश्वर का आशीर्वाद मेरे पास था. क्योंकि दक्षिण अफ्रीका टीम में खेलने का बड़ा श्रेय मेरी पत्नी को जाता है.” आपकी जानकारी के लिए बता दें कि ताहिर सुमाया दिलदार को अपना दिल दे बैठे थे और फिर दोनों ने एक-दूसरे से शादी कर ली थी. सुमाया हिंदू परिवार से ताल्लुक रखती हैं.

 इमरान ताहिर

आपको बता दें कि दक्षिण अफ्रीका में रहने से पहले ताहिर पाकिस्तान में ही रहा करते थे. यहां पर पाकिस्तान अंडर-19 और पाकिस्तान-ए के लिए वो खेल चुके हैं. अच्छा प्रदर्शन करने के बाद भी ताहिर को कभी नेशनल टीम के लिए नहीं चुना गया. पत्नी के कहने के बाद ताहिर दक्षिण अफ्रीका की ओर रूख कर गए. यहां पर उन्होंने फिर से क्रिकेट खेलना शुरू किया. उनकी किस्मत ने यहां पर उनका साथ दिया और उन्होंने अपना पहला मैच दक्षिण अफ्रीका के लिए साल 2011 में 24 फरवरी के दिन खेला था.

इसके बाद दिल्ली में वर्ल्ड कप के दौरान उन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ अपना अंतर्राष्ट्रीय डेब्यू किया था. इस मैच के बाद ताहिर को साल 2011 में ही केपटाउन में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट खेलने का मौका मिला. फिर साल 2013 में उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ कोलंबो में टी-20 मैच में डेब्यू किया. इसके बाद ताहिर टीम का हिस्सा बन गए. आज के समय में वो क्रिकेट जगत का बड़ा नाम हैं.

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप हमें सोशल मीडिया फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फॉलो करें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.