Eng vs WI: 24 साल बाद टेस्ट इतिहास में टीम के कप्तानों ने एक-दूसरे को किया आउट

0

साउथैम्पटन: इंग्लैंड के रोज बाउल में इस समय टेस्ट क्रिकेट का बढ़िया प्रदर्शन जारी है। पहले दिन बारिश के खेल और अगले दिन मेजबान इंग्लैंड के विकेटों के पतझड़ ने इस मैच को रोमांचक अंत की जाने का प्लेटफॉर्म दे दिया है। सीरीज से पहले किसी को नहीं पता था यह श्रंखला स्टोक्स बनाम होल्डर के तौर पर प्रचारित हो जाएगी। लेकिन हालात ऐसे बनते गए कि कोरोना युग में होने वाली पहली ऐतिहासिक क्रिकेट सीरीज दो युवा प्रतिभाओं के बीच की प्रतिद्वंदता को जाहिर करते हुए आगे बढ़ रही है।

आमने-सामने स्टोक्स और होल्डर पहले ही मैच से पूर्व जो रूट को अपने दूसरे बच्चे के जन्म के चलते मैच से हटना पड़ा जिसके चलते इंग्लैंड की कमान स्टोक्स के हाथों में आ गई और इस तरह दुनिया के दो मौजूदा बेस्ट टेस्ट ऑलराउंडर एक कप्तान के तौर पर भी एक-दूसरे के आमने सामने आ गए।

Ben Stokes Jason Holder Cricket

जैसे ही खेल हुआ, होल्डर ने 6 विकेट लेकर जंग का बिगुल बजा दिया। स्टोक्स की टीम 204 रनों पर धराशाई हो गई लेकिन यहां अंग्रेज कप्तान ने ही सर्वाधिक रनों (43) का योगदान दिया। फिर स्टोक्स ने 49 रन देकर 4 विकेट लिए और कैरेबियाई बल्लेबाजों को 318 रनों पर समेटने में एक भूमिका निभाई।

दोनों ने एक दूसरे को कर दिया आउट- यहां ध्यान देने वाली बात यह रही है कि इंग्लैंड की पहली पारी में स्टोक्स को होल्डर ने ही चलता किया जब विकेट के पीछे कीपर डाउरिच ने उनका कैप लपका। लेकिन स्टोक्स ने जल्द ही सूद सहित हिसाब चुकाते हुए विंडीज पारी में कैरेबियाई युवा कप्तान को मात्र 5 रनों के स्कोर पर आउट कर दिया। होल्डर को जोफ्रा आर्चर ने स्टोक्स की गेंद पर लपक लिया।

टेस्ट क्रिकेट में 24 साल बाद हुआ ऐसा संयोग- मजेदार तथ्य यह है कि ऐसा कारनामा टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में 24 साल बाद हुआ है। इससे पहले पाकिस्तान और इंग्लैंड के बीच 1996 में ऐसा संयोग हुआ था। तब पाकिस्तान की टीम ने इंग्लैंड का दौरा किया था और सीरीज का दूसरा मैच लीड्स में चल रहा था। वसीम अकरम पाकिस्तान के कप्तान थे और माइक अथर्टन मेजबान कप्तान थे।

wasim akram

अकरम और अथर्टन ने किया था एक-दूसरे को आउट तब इंग्लैंड की पहली पारी में अथर्टन को 12 रनों के स्कोर पर अकरम ने चलता कर दिया और फिर पाकिस्तान की दूसरी पारी के दौरान अथर्टन ने उनको 7 रनों के निजी स्कोर पर आउट किया। यह बात गौर करने लायक है कि अथर्टन एक पार्ट टाइम गेंदबाज थे, उनका मुख्य काम ओपनिंग में आकर गेंद को पुराना करना था लेकिन उस मैच में उन्होंने ना केवल गेंदबाजी की बल्कि विपक्षी कप्तान को आउट भी कर दिया।

टेस्ट इतिहास में केवल 12वीं बार हुआ ऐसा वह मैच ड्रा रहा था। अब देखना होगा इंग्लैंड और विंडीज के मैच का क्या परिणाम होता है। अब दूसरी पारी में इंग्लैंड ने बिना किसी नुकसान के 15 रन बना लिए हैं और दो दिनों का खेल बाकी है। आपको बता दें कि क्रिकेट में ऐसा केवल 12वीं बार हुआ है जब एक ही टेस्ट मैच में विपक्षी कप्तानों ने एक दूसरे को आउट कर दिया।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप हमें सोशल मीडिया फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर को फॉलो करें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.