पूर्व तेज गेंदबाज माइकल कास्प्रोविज ने छोड़ा क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया का गैर कार्यकारी निदेशक पद

0

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज माइकल कास्प्रोविज (Michael Kasprowicz) ने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के गैर कार्यकारी निदेशक पद से इस्तीफा दे दिया है। बोर्ड के अध्यक्ष अर्ल एडिंग्स (Earl Eddings) ने इस बात की पुष्टि करते हुए कहा कि, “माइकल ने पूर्व अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी, एसीए अध्यक्ष, क्वीन्सलैंड क्रिकेट के अंतरिम सीईओ और आठ साल तक बोर्ड के सदस्य के रूप में ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट की सेवा की। वह क्रिकेट परिवार के लंबे समय तक सदस्य रहे और उनके योगदान के लिए हम उन्हें धन्यवाद देते हैं।”

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की ओर से कास्प्रोविज ने 38 टेस्ट, 43 वनडे और दो टी-20 मैच खेले है। जिसके बाद वह क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के निदेशक बने ।और उन्होंने कहा कि, ” जैसा कि मैंने मैदान पर किया, मेरा मानना है कि इस पद को भी मैंने सब कुछ दिया और इस देश में क्रिकेट के प्रत्येक हितधारक का प्रतिनिधित्व करने के मौके का लुत्फ उठाया।”

कास्प्रोविज ये यह भी कहा कि “यह अनुभव काफी सम्मान की बात रहा लेकिन अब मेरे लिए यह पद छोड़ने का सही समय है।”

माइकल कास्प्रोविज

आपको यह भी जानकारी होनी चाहिये कि माइकल कास्प्रोविज ने अपने पहला टेस्ट डेब्यू 1996 में वेस्टइंडीज के खिलाफ किया था और अपना आखिरी टेस्ट मैच 2006 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेला था। साथ अपना वनडे डेब्यू 1995 में वेस्टइंडीज के खिलाफ ही किया था। और अपना आख़री वनडे मैच जुलाई 2005 में इंग्लैंड के खिलाफ खेला था। जिसके साथ ही उन्होंने अपना टी-20 डेब्यू 2005 में न्यूज़ीलैंड के खिलाफ किया था।

माइकल कास्प्रोविज ने अपने टेस्ट कॅरियर में 113 विकेट 32.88 की औसत से लिये है जिसके साथ ही उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में 4 बार 5 विकेट लिए है और उनका टेस्ट में अबतक का सबसे अच्छा प्रदर्शन इंग्लैंड के खिलाफ 36 रन देकर 7 विकेट हांसिल किया था। और वनडे में उन्होंने 67 विकेट 24.98 की औसत से लिया है जिसके साथ ही उन्होंने 2 बार 5 विकेट लेने का कारनामा किया उनका वनडे में अबतक का सबसे अच्छा प्रदर्शन श्रीलंका के खिलाफ 45 रन देकर 5 विकेट लिया था।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप हमें सोशल मीडिया फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फॉलो करें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.