आत्महत्या करना चाहते थे सुरेश रैना, बताई अपनी हॉस्टल की कहानी

0

किसी ने सच ही कहा है, असली बाजीगर वही है जो बुरे वक्त में हाैसला कायम रखते हुए बाजी मारकर लक्ष्य हासिल करे। भारतीय क्रिकेट टीम के सुरेश रैना की जिंदगी भी आसान नहीं रही। उन्होंने जिन मुश्किलों का सामना कर आज जो मुकाम पाया है वो कईयों के लिए एक प्ररेणा है। खासकर उन लोगों के लिए, जो हार मानकर खुद को सबसे अलग कर लेते हैं। रैना का भी वो दाैर आया था जब उन्होंने आत्म हत्या के बारे में सोचा था। जी हां, आज से 4 साल पहले रैना ने खुलासा किया था कि वो एक समय इतने परेशान हो चुके थे कि सोचते थे कि सुसाइड कर लूं।

क्या रहा था मामला? रैना ने बताया था कि तब वो 13 साल के थे और लखनऊ स्पोर्ट्स होस्टल में रह रहे थे, उस समय आत्महत्या करने की सोची। क्योंकि सीनियर उन्हें बेहद तंग करते थे। रैना की कोच के साथ अच्छी बनती थी। इसलिए बाकी खिलाड़ी उनसे जलते थे। होस्टल में जो खिलाड़ी रहते थे, उनका मकसद चार साल यहां अभ्यास करने के बाद सर्टिफिकेट्स के आधार पर सरकारी नौकरी पाने का था। लेकिन तब रैना अच्छा क्रिकेट खेलते थे और इसी वजह से लोग उनसे जलते थे। रैना ने बताया था कि कई बार दूध की बाल्टी में घास डाल दिया जाता था। सर्द रात में तीन बजे उनके ऊपर ठंडा पानी डाल दिया जाता था। रैना का कहना है कि वे दूध को चुन्नी से छानकर पीते थे। मन करता था उठकर गलत हरकत करने वालों को पीटें, लेकिन यह भी पता होता था कि अगर एक को मारा तो बाकी के पांच आप पर टूट पड़ेंगे।

सुरेश रैना

हाॅकी से भी पीटा था

रैना को होस्टल में कुछ शरारती लड़कों ने हाॅकी-डंडो से भी पीटा था। एक साथी को तो इतना पीटा गया कि वह कोमा जैसी स्थित में आ गया। रैना का एक साथी तो छत से कूदने पर तैयार था। लेकिन रैना ने अपने एक दोस्त नीरज के साथ मिलकर उसे रोका।

ले रखा था 80 लाख का होम लोन

रैना आज 180 करोड़ के मालिक हैं, लेकिन एक समय वो भी था कि उनपर 80 लाख का होम लोन था। इसका खुलासा भी रैना ने खुद किया था। रैना ने 2016 में कहा था, ”मैं अपने करियर को लेकर काफी डरा हुआ था। मेरे ऊपर 80 लाख रुपए का हाउस लोन भी था, लेकिन आईपीएल ने मेरी जिंदगी बदल दी।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप हमें सोशल मीडिया फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर को फॉलो करें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.