वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा मैचो में कप्तानी करने वाले भारतीय खिलाड़ी

0

क्रिकेट के किसी भी फॉर्मेट में एक कप्तान की भूमिका काफी अहम होती है। कप्तान ही होता है जो आगे बढ़कर टीम का नेतृत्व करता है। कप्तान के ऊपर मैदान के अंदर और बाहर टीम को लीड करने की जिम्मेदारी होती है। जब भी कोई टीम कोई बड़ा टूर्नामेंट या खिताब जीतती है तो उसका श्रेय कप्तान को ही दिया जाता है या फिर अगर हारती है, तब भी कप्तान पर ही सवाल खड़े किए जाते हैं।

कई खिलाड़ी होते हैं जो कप्तान के तौर पर काफी अच्छा प्रदर्शन करते हैं। सौरव गांगुली, रिकी पोंटिंग, एम एस धोनी, ग्रीम स्मिथ इन सभी ने कप्तान के तौर पर सफलता के नए आयाम स्थापित किए। जब कोई खिलाड़ी एक कप्तान के तौर पर लगातार अच्छा खेल दिखाता है तो उसे लंबे समय तक कप्तानी का मौका मिलता है। ऐसे में कई कप्तान ऐसे होते हैं जिन्हें लंबे समय तक कप्तान के तौर पर खेलने का मौका मिलता है। हम आपको 3 ऐसे भारतीय खिलाड़ियों के बारे में बताएंगे जिन्होंने कप्तान के तौर पर सबसे ज्यादा वनडे मैच खेले हैं।

3. सौरव गांगुली

SouravGanguly

भारतीय क्रिकेट को बदलने का श्रेय सौरव गांगुली को ही जाता है। एक ऐसे समय में जब टीम फिक्सिंग के आरोपों से घिरी हुई थी। क्रिकेट को लेकर चारों तरफ निराशा का माहौल था, ऐसे समय में सौरव गांगुली के रूप में एक ऐसा कप्तान भारत को मिला जिसने टीम की दिशा और दशा ही बदल दी। सौरव गांगुली ही वो कप्तान थे, जिसने टीम को निडर होकर खेलना सिखाया और विदेशों में भी जीत दिलाई। उनकी कप्तानी में भारतीय टीम 2003 वर्ल्ड कप के फाइनल तक पहुंची थी।

सौरव गांगुली ने 1999 से लेकर 2005 तक 147 मुकाबले कप्तान के तौर पर खेले। इस दौरान उनको 76 मुकाबलों में जीत मिली और 66 में हार का सामना करना पड़ा।

2. मोहम्मद अजहरुद्दीन

mohammed-azharuddin

मोहम्मद अजहरुद्दीन काफी लंबे समय तक भारतीय टीम के कप्तान रहे। मोहम्मद अजहरुद्दीन एक शानदार कप्तान होने के अलावा जबरदस्त खिलाड़ी भी थे। फैंस उनकी बल्लेबाजी के दीवाने थे। वो बहुत खूबसूरत बल्लेबाजी किया करते थे।

मोहम्मद अजहरुद्दीन ने 1990 से लेकर 1999 तक भारतीय टीम के लिए 174 मैचों में कप्तानी की। उनकी कप्तानी में भारत ने 90 वनडे मुकाबले जीते और 76 में हार का सामना करना पड़ा। 2 मैच टाई रहे और 6 मुकाबले बिना किसी नतीजे के समाप्त हुए।

1.एम एस धोनी

MS Dhoni

एम एस धोनी भारत के सबसे सफल कप्तान हैं। उनके नेतृत्व में भारतीय टीम ने आईसीसी की तीनों ट्रॉफी अपने नाम की है। एम एस धोनी की अगुवाई में भारत ने सबसे पहले 2007 का वर्ल्ड कप अपने नाम किया। उसके बाद 2011 में 28 साल बाद वनडे का वर्ल्ड कप जीता। फिर आखिर में 2013 में इंग्लैंड को हराकर चैंपियस ट्रॉफी जीती।

एम एस धोनी की कप्तानी में भारत ने कई टूर्नामेंट्स और सीरीज में जीत हासिल की और वे भारत के एक सबसे सफल कप्तान के तौर पर साबित हुए। उन्होंने 2007 से लेकर 2018 तक कप्तान के तौर पर अपने करियर में 200 वनडे मुकाबले खेले और 110 में जीत हासिल की और 74 में हार का सामना करना पड़ा।

एम एस धोनी दुनिया के उन टॉप 3 कप्तानों की लिस्ट में शामिल हैं जिन्होंने 200 या उससे ज्यादा मैचों में कप्तानी की है।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप हमें सोशल मीडिया फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर को फॉलो करें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.