इरफान पठान का खुलासा, ग्रैग चैपल नही इनकी वजह बर्बाद हुआ करियर, सचिन-द्रविड़ को लेकर कही ये बात

0

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व तेज गेंदबाज और हरफनमौला खिलाड़ी इरफान पठान का करियर भले ही ज्यादा बड़ा न रहा हो लेकिन अपने छोटे से करियर में ही उन्होंने खेल जगत को काफी प्रभावित किया था। साल 2003 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपने करियर की शुरुआत करने वाले इरफान पठान ने अपने पहले ही मैच में एडम गिलक्रिस्ट और मैथ्यू हेडेन जैसे दिग्गज बल्लेबाजों का विकेट लेकर सभी को प्रभावित किया था और बहुत जल्द ही एक खतरनाक स्विंग गेंदबाज के रूप में अपनी पहचान को पक्का किया। जल्द ही इरफान पठान ने भारतीय क्रिकेट टीम के महत्वपूर्ण खिलाड़ियों में अपनी जगह बना ली और दुनिया के बेहतरीन स्विंग गेंदबाजों की लिस्ट में शुमार हो गये।

कुछ वक्त बाद इरफान पठान ने अपनी खतरनाक तेज गेंदबाजी के साथ-साथ अपनी बल्लेबाजी का भी जादू बिखेरना शुरू कर दिया जिसके बाद टीम इंडिया में उनकी मौजूदगी और अहम मानी जाने लगी। इरफान पठान का करियर एक शानदार खिलाडी के रूप में आगे बढ़ रहा था कि तभी करियर ने करवट ली और ऐसा कुछ हुआ कि साल 2012 में महज 28 साल की उम्र में ही उनका करियर खत्म होने लगा। खुद इरफान पठान को अपने प्रदर्शन पर वो विश्वास नहीं दिख रहा था और धीरे-धीरे वह ऐसा गये कि कभी वापसी नहीं कर सके।

इनकी वजह से बना ऑलराउंडर

रौनक कपूर के यूट्यूब चैनल पर बात करते हुए इरफान पठान ने इंटरव्यू दिया और कई बातें साझा की। इस दौरान पठान ने उन बातों से इंकार करते हुए उन खिलाड़ियों का नाम बताया जिनकी वजह से वह एक ऑलराउंडर बन सके। उन्होंने कहा,’जो लोग बात करते हैं कि ग्रैग चैपल ने मुझे ऑलराउंडर बनाया तो सचिन पाजी ने राहुल भाई को एक बार कहा था कि इरफान को नंबर 3 पर ट्राई करते हैं। इसमें वो ताकत है जो छक्के मार सकता है और नया बॉल खेल सकता है। श्रीलंका के खिलाफ सीरीज में मुझे नंबर 3 पर ट्राई किया था जब मुरलीधरन अपने पीक पर थे।’

इरफान पठान का खुलासा

चैपल नही इनकी वजह से हुआ मेरा करियर बर्बाद

अपने करियर को लेकर इरफान पठान का दर्द कई बार सामने आ चुका है। पठान का मानना रहा है कि उन्हें जितना सपोर्ट मिलना चाहिये था वो नहीं मिल सका। इस बीच कई दिग्गजों का नाम लिया जाता है जिन पर आरोप लगता है कि इरफान पठान का करियर खत्म करने के पीछे इनका हाथ है। इस लिस्ट में भारतीय टीम के पूर्व कोच ग्रैग चैपल का नाम भी आता है हालांकि खुद इरफान इस बात को नहीं मानते हैं। ग्रैग चैपल के करियर खराब करने वाली बात को पर उन्होंने कहा,’जब बात आती है उन्होंने मेरा करियर खराब किया तो ऐसी बात नहीं है। मुझे लगता है कि जो भी चीज डायवर्ट करने वाली होती है। अब जाहिर सी बात है कि वो अपने मुल्क का है ही नहीं। वो बाहर के मुल्क का है। तो जाहिर सी बात है कि इसी को पंचिंग बैग बना देते हैं। इसके बारे में ही कहते रहते हैं। जो असली लोग हैं जिन्होंने वाकई में नुकसान किया है। यार उनके बारे में मैं सिर्फ उतना ही कहूंगा कि हां, जितना मुझे सपोर्ट करना चाहिए था उतना नहीं किया।’

इरफान पठान का खुलासा

मैं यूनिटी की बात करता हूं

गौरतलब है कि इरफान पठान ने जब जामिया मिलिया इस्लामिया मामले पर ट्वीट किया था तो उसे लेकर उन्हें काफी आलोचनाओं का भी सामना करना पड़ा था। इस मुद्दे को लेकर पठान ने कहा कि वह सोशल मीडिया की आलोचनाओं से नहीं डरते, फिर चाहे कुछ भी हो जाये वह अपने मन की बात कहने से पीछे नहीं हटेंगे। उन्होंने कहा,’सोशल मीडिया पर आपकी काफी इमेज बनती है वो तभी बनेगी जब आप रियल हो। सोशल मीडिया पर प्रभाव रखने वाले व्यक्ति के रूप में जो भारत के लिए खेला हो और इंटरनेशनल लेवल पर झंडे गाड़े हैं तो वो इंसान जब बात करता है तो सोच-समझ कर करता है। भारत के लिए खेला हुआ हमेशा एकता की बात करेंगा। मैं यूनिटी की बात करता हूं।’

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप हमें सोशल मीडिया फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर को फॉलो करें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.