CSK के इस सदस्य ने की शहीद जावानों पर घटिया टिप्पणी, सचिन-विराट का आया बयान

0

भारत (india) और चीन (china) के बीच जारी सीमा विवाद के चलते गत सोमवार को दोनों ही देशों के सेनाओं के बीच हिंसक झड़प हुई। पिछले चार दशक के बाद दोनों देशों के सेनाओं के बीच यह हिंसक झड़प देखने को मिला है, जिसमें भारत के 20 जवानों (soldiers) के शहीद होने की खबर है, जिससे पूरा देश आक्रोशित है। वहीं भारत ने भी चीन को मुंहतोड़ जवाब देने में कोई कसर नहीं छोड़ी है। इस हिंसक झड़प में चीन के जान माल का भी काफी नुकसान हुआ है। इस हिंसक झड़प के चलते चीन के 40 से भी अधिक जवान मारे गए, लेकिन वो लगातार इस बात से इनकार कर रहा है। उसका कहना है कि उसका कोई नुकसान नहीं हुआ है। वहीं अमेरिका(america) ने चीन के झूठ का खुलासा कर इस बात की पुष्टि की है कि इस झड़प में चीन के भी सैनिक मारे गए हैं।

इसके साथ ही एक तरफ जहां जवानों की शहादत से पूरा देश गमगीन है, तो वहीं कुछ लोगों ऐसे भी हैं, जो जवानों के बारे में असभ्य और घटिया टिप्पणी करने से बाज नहीं आ रहे हैं। कायदे से ऐसे लोगों पर सख्त से सख्त कार्रवाई होनी चाहिए, ताकि आगामी भविष्य में भी कोई ऐसी हरकत करने की जुर्रत न कर सके।

बता दें कि सीएसके (chennai super kings) टीम के डॉक्‍टर मधु थोटापिल्लिनी असंवेदनशील  ट्वीट किया था, जिसके बाद आईपीएल (IPL)  फ्रेंचाइजी ने इस पर खेद जताते हुए कहा कि इस मामले को संज्ञान में लेते हुए आगे कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

लिहाजा चैन्नई सुपरकिंग्स ((chennai super kings) के डॉक्टर द्वारा ऐसी असंवेदनशील टिप्पणी करने पर उन्हें टीम से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया है। बता दें कि वे इस कार्रवाई से पहले स्पोर्टस मेडिसिन टीम के सदस्य थे। वहीं इस कड़ी कार्रवाई की जानकारी चैन्नई सुपकिंग्स ने खुद ट्वीट करके दी है, जिसमें उन्होंने डॉक्टर को बाहर का रास्ता दिखाए जाने की जानकारी दी है।  वहीं जवानों की शहादत को लेकर विराट कोहली (virat kohli) सहित सचिन तेंदुलकर (Sachin tendulkar) का बयान सामने आया है।

विराट कोहली (virat kohli) ने अपने ट्वीट (Tweet) कर कहा कि उन जवानों (Soldier) को सलाम जिन्होंने गलवान घाटी (Galwan vally) में देश की हिफाजत के लिए अपना बलिदान दिया है। कोई भी एक सैनिक से ज्‍यादा निस्‍वार्थ और बहादुर नहीं होता। उनके परिवार के लिए गहरी संवेदना। मुझे आशा है कि इस कठिन समय में हमारी प्रार्थनाओं के जरिए उन्‍हें शांति मिलेगी। वहीं सचिन तेंदुलकर ने इस जवानों की शहादत को लेकर कहा कि पूरा देश शहीदों के परिवार के साथ खड़ा है, तो हरभजन सिंह(Harbhjan singh) ने चीनी समानों पर रोक लगाने की मांग की है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.